सूर्यग्रहण 26 दिसंबर 2019, जानिए! किन-किन राशि को होगा क्या लाभ!

Astro Rahul Srivastava
गार्गी ज्योतिष अनुसंधान प्रयागराज
9454621446
Astro Rahul Srivastava
गार्गी ज्योतिष अनुसंधान प्रयागराज
9454621446

उपासना डेस्क, प्रयागराज: 26 दिसंबर 2019 को कंकड़ आकृति यानी अंगूठी की तरह खंडग्रास सूर्य लगेगा भारत के अधिकांश भागों से यह खंडग्रास के रूप में दिखाई देगा जबकि दक्षिणी भारत के कुछ क्षेत्रों में यह कंकड़ आकृति (अँगूठी) की तरह दिखाई देगा भारतीय मानक समय के अनुसार इसका स्पर्श प्रातः 8:00 पर होगा ग्रहण का मध्य समय 10:48 पर तथा मोक्ष 12:36 पर होगा।

ग्रहण का राशिफल
मेष मानहानि,
वृष -अत्यधिक कष्ट,
मिथुन-स्त्री कष्ट,
कर्क -सौख्यं,
सिंह- चिंता,
कन्या -व्यथा,
तुला- श्री,
वृश्चिक- क्षति,
धनु- घात,
मकर- हानि,
कुंभ- लाभ,
मीन- सुखम्

क्या करें क्या न करें
सूर्य ग्रहण का सूतक स्पर्श समय से 12 घंटे पूर्व लग जाता है। सूतक लग जाने पर मंदिर में प्रवेश करना मूर्ति को स्पर्श करना भोजन करना मैथुन क्रिया यात्रा वर्जित है। विशेष मूल नक्षत्र में जन्म लेने वाले को यह ग्रहण नहीं देखना चाहिए गर्भवती महिलाएं विशेष सावधानी रखें पेट पर हल्का गाय के गोबर का लेप लगाएं। बालक वृद्ध रोगी अत्यावश्यक में आहार ले सकते हैं भोजन सामग्री में जैसे दूध दही घी इत्यादि मे कुश रख देना चाहिए ग्रहण मोक्ष के बाद पीने का पानी ताजा ले लेना चाहिए। ग्रहण में श्राद्ध दान जप मंत्र सिद्धि का विधान है ग्रहण जहां से दिखाई देता है सूतक भी वही लगता है एवं धर्म शास्त्री मान्यताएं भी वही लागू होती हैं तथा उसका फलाफल भी वही लागू हुआ।

प्रमुख महानगरों का ग्रहण विवरण
स्थान स्पर्श मध्य मोक्ष
दिल्ली 8:17. 9:31 10:57
मुंबई 8:04. 9:32. 10:55
कानपुर 8:18. 9:35. 11:12
लखनऊ। 8:20 9:37 11:07
जबलपुर 8:13 9:33 10:57
पटना। 8:25 9:45 11:19
वाराणसी 8:21 9:40 11:14

Comments

comments

error: Content is protected !!
Open chat
Hi, Welcome to Upasana TV
Hi, May I help You
Powered by