धर्महरि श्री चित्रगुप्त मन्दिर अयोध्या के जीर्णोद्धार को लेकर आहूत की गई महत्वपूर्ण बैठक

अनिल श्रीवास्तव, उपासना डेस्क, नोएडा: भगवान राम व मां जानकी के प्रथम संयुक्त आराध्य भगवान चित्रगुप्त मन्दिर अयोध्या के जीर्णोद्धार को लेकर चित्रांशों ने गाजियाबाद में आज एक महत्वपूर्ण बैठक कर मन्दिर जीर्णोद्धार व सौंदर्यीकरण की व्यापक रूपरेखा बनाई। पंचशील ग्रीन 1 में श्री वी पी श्रीवास्तव की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई इस बैठक में धर्महरि श्री चित्रगुप्त मन्दिर अयोध्या के जीर्णोद्धार को लेकर समर्पित भाव से आगे आए कायस्थों को अलग अलग जिम्मेदारी दी गई, जिसको कार्यान्वित करने के संकल्प के साथ बैठक का समापन हुआ।

इससे भी पढ़े: रखरखाव के अभाव में पहचान खोता जा रहा है अयोध्या का प्राचीन श्री चित्रगुप्त मन्दिर

बैठक में मन्दिर सौंदर्यीकरण के आर्थिक पहलू को ध्यान में रख सरल उपाय बताते हुये विनीत खरे ने सुझाव दिया कि प्रतिदिन प्रतिव्यक्ति वहा के पूजाघर में रखे दानपात्र में एक रुपये का दान करे जिससे एकत्र राशि को निर्माण कार्य मे लगाया जा सकता है। साथ ही दान थैली के साथ परिवारों के साथ सम्पर्क किया जाय। शोसल साइट्स पर इस धार्मिक कार्य के लिए बने समूह व पेज पर सक्रियता बढ़ाई जाय।

जिम्मेदारी में प्रमुख रूप से प्रचार प्रसार की जिम्मेदारी वी पी श्रीवास्तव, विनीत खरे, विवेक श्रीवास्तव, गौरव श्रीवास्तव, अनुरंजन श्रीवास्तव को देने के साथ शुभ्रांशू, गौरव श्रीवास्तव को आर्थिक सहयोग के लिए लोगो को प्रेरित करने का जिम्मा सौंपा गया।इसके अलावा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शोसल साइट्स के जरिये इस सतयुग कालीन प्राचीन धर्महरि मंदिर के बारे में जनजागरण कर लोगो मे जागरूकता फैला कर मन्दिर को भव्यस्वरूप देने सम्बन्धी महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया।

एन सी आर में गठित ऊर्जावान चित्रांश बन्धुओं में अशोक श्रीवास्तव नोएडा, अशोक श्रीवास्तव गाजियाबाद, डॉ अतुल वर्मा, डॉ रेनू वर्मा, वी पी श्रीवास्तव, के सी श्रीवास्तव, गौरव श्रीवास्तव, अनुरंजन श्रीवास्तव, विनीत खरे, शुभ्रांशू श्रीवास्तव, विवेक श्रीवास्तव, आदेश कुमार श्रीवास्तव, विजय कुमार श्रीवास्तव, संजय श्रीवास्तव नाटी, अनुराग श्रीवास्तव, किशन सिन्हा, अमित कुमार वर्मा आदि प्रमुख हैं।
इस बैठक में दर्जनो चित्रांश सक्रिय रूप से उपस्थित थे।

Comments

comments

error: Content is protected !!
Open chat
Hi, Welcome to Upasana TV
Hi, May I help You
Powered by