कुम्भ मेले के दौरान चलने वाले लंगर मे संस्थायें रखे साफ-सफाई का विशेष ध्यान -मण्डलायुक्त, प्रयागराज

उपासना डेस्क, प्रयागराज: प्रयागराज में आयोजित होने वाले कुम्भ में आने वाले श्रद्धालुओं एवं पर्यटकों के स्वागत के लिए प्रयागराजवासी तैयार रहें। कुम्भ के दौरान चलने वाले लंगर आदि कार्यक्रमों में सफाई-व्यवस्था के साथ सड़कों पर आवागमन में किसी प्रकार की लोगो को असुविधा न हो, इस बात का ध्यान लंगर करने वाले लोग विशेष रूप से ध्यान रखे। आने वालें तीर्थयात्रियों को हम अपनी बेहतर से बेहतर सुविधा दे, इस बात ख्याल रखा जाय। उक्त बातें मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल ने कलेक्ट्रेट स्थित संगम सभागार मे उपस्थित उद्ममियों के बीच कही। उन्होंने कहा कि विभिन्न संस्थाओं के द्वारा कुम्भ मे आने वाले लोगों के लिए लंगर का आयोजन किया जाता है। इसमे इस बात का ध्यान जरूर रखा जाय कि लोगों को इसमें किसी प्रकार की परेशानी न हो तथा उन्हें अच्छे से अच्छी व्यवस्था उन्हें प्रदान की जाय।
मण्डलायुक्त ने कहा कि लंगर करने वाले संस्थाये लंगर किये जाने के स्थानों का विवरण अपने क्षेत्र के पुलिस अधिकारियों को अवश्य दे दिया जाय, जिससे आवागमन में किसी प्रकार की असुविधा यहां आने वाले लोगो को न हो। इसके साथ ही लंगर वाले स्थलों पर सम्बन्धित संस्था साफ-सफाई का भी विशेष ध्यान रखे। उन्होंने कहा कि प्रशासन के द्वारा होर्डिंग एरिया चिन्हित कर दिया गया तथा विभिन्न साइनबोर्ड भी लगाये गये है। उन्होंने कहा कि लंगर चलाने वाले लोग एडीएम सिटी को सूचित किया जाय। उन्होंने कहा कि शहर को साफ-सुथरा रखने में प्रयागराजवासी सहयोग करें। डोर-टू-डोर कनेक्शन के माध्यम दे तथा कूड़ा निर्धारित स्थानों पर ही डाले। जिससे शहर साफ-सुथरा बना रहें। मण्डलायुक्त ने कहा कि सभी स्टोक होल्डरों तथा उद्योग बन्धुओं के साथ यातायात के अधिकारियों के साथ बैठक की जायेगी, जिसमें कुम्भ में की जारी यातायात प्लान के बारे में विस्तृत से बताया जायेगा।
जिलाधिकारी श्री सुहास एल.वाई. ने व्यापारियों को अवगत कराया कि कुम्भ के दौरान यातायात का प्लान बनाया गया है, जिससे आने वाले लोगों को किसी भी परेशानी सामना न करना पड़े। उन्होंने उद्ममियों के द्वारा ओवरलोडिंग ट्रकों पर कार्यवाही किये जाने की बात पर विश्वास दिलाया कि ओवरलोडिंग ट्रकों पर कार्यवाही की जायेगी। इसी तरह उद्ममियों के द्वारा मेला के दौरान सब्जी एवं फल के ट्रको के परमीशन की बात उठायी गयी, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा उद्ममियों के साथ विचार-विमर्श किया गया।
उद्ममियों ने मण्डलायुक्त को बताया कि उनके द्वारा कुम्भ मे पूरे दिन भर लंगर किया जाता है। जिसमें दवाओं का भी निःशुल्क वितरण होता है। उन्होंने बताया कि उनके द्वारा आने वालें लोगों के लिए रैन बसेरा का भी इंतेजाम किया जाता है। उद्ममी जोगिन्दर सिंह के द्वारा बताया गया कि खुल्दाबाद के गुरूद्वारा के पास हाल मे लंगर किया जाता है।
मण्डलायुक्त ने कहा कि कुम्भ में आने वाले लोगों के साथ विनम्रता का व्यवहार किया जाय। इसके लिए सभी संस्थानों में कार्य करने वाले लोगो को भी इस बात प्रशिक्षण अवश्य दिया जाय। उन्होंने कहा कि यहां पर आने वाले लोग कुम्भ में एक अच्छा अनुभव अपने साथ लेकर जाय, इसका हम सभी को प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसी तरह होटल मे रूकने वाले तीर्थयात्रियों एवं श्रद्धालुओं के साथ भी होटल के कर्मचारी अच्छे ढंग से पेश आये, इस बात का ध्यान रखा जाय। उन्होंने कहा कि कुम्भ का लोगो(प्रतीक चिन्ह) अपने प्रतिष्ठानों में अवश्य लगाये जाने के साथ अपने प्रतिष्ठानो को सजाया जाय। उन्होंने कहा कि कुम्भ आयोजन को सकुशल सम्पन्न कराने में हर किसी का सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने कहा कि कुम्भ में आने वाले पर्यटकों तथा तीर्थयात्रियों को कुम्भ का लोगो(प्रतीक चिन्ह) अथवा कुम्भ से सम्बन्धित ब्रोसर वितरित किये जाय।

Comments

comments

error: Content is protected !!