बाबा मुकुंदेश्वर महादेव, इलाहाबाद

प्रस्तुति : अजामिल
सभी चित्र : विकास चौहान

यज्ञ तीर्थ प्रयाग में शिव मंदिरों की महिमा का बखान बाबा मुकुंदेश्वर महादेव की चर्चा के बिना कभी पूरा नहीं होता। बाबा मुकुन्देश्वर महादेव का बहुत सुंदर मंदिर इलाहाबाद के घनी बस्ती वाले बहादुरगंज इलाके में स्थापित है। इस मंदिर में बाबा मुकुन्देश्वर महादेव की प्राण प्रतिष्ठा इस क्षेत्र में उस समय गंगा स्नान के लिए आने वाले साधु संतों और शिवभक्तों ने विधि विधान के साथ की थी।

बताया जाता है यह मंदिर लगभग 200 बरस पूर्व किसी महाकुंभ के अवसर पर बहुत छोटे स्वरुप में स्थापित किया गया था, आगे चलकर शिव भक्तों ने शिव मंदिरों के मानक के अनुरूप इसे शास्त्र सम्मत बना दिया। बहादुरगंज के इस इलाके से होकर कभी गंगा वह करती थी, इसलिए इस शिव मंदिर का जलाभिषेक गंगाजल से प्रतिदिन होता रहा और यह मंदिर धीरे-धीरे पूजा अर्चना से शिव सिद्धि प्राप्त कर सिद्धपीठ में बदल गया। यह मंदिर एक ऊंचे चबूतरे पर बना हुआ है, चबूतरे के नीचे ठंडे पानी का एक कुआं है जो आज भी जल का स्रोत है। बाबा मुकुंदेश्वर महादेव के इस भव्य मंदिर की सजावट और इसकी दीवारों पर उकेरी गई कलात्मक डिजाइन देखते ही बनती है। शिल्पकारों ने यह कार्य पत्थर पर किया है, मंदिर की छत बहुत खूबसूरत है। यहां स्थापित शिवलिंग चमकदार काले पत्थर से निर्मित है इसका सौंदर्य शिव भक्तों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

पुष्पादि से सुसज्जित होने के बाद शिवलिंग का सौंदर्य और भी बढ़ जाता है, बहादुरगंज क्षेत्र के लोग प्रतिदिन बाबा मुकुन्देश्वर महादेव के दर्शन के लिए पहुंचते हैं। बाबा मुकुन्देश्वर महादेव सबका दुख हरने वाले हैं। कहा जाता है कि असाध्य रोगों से पीड़ित व्यक्ति यदि इस मंदिर पर आकर बाबा मुकुन्देश्वर महादेव से अपने रोग मुक्ति की प्रार्थना करता है तो उसे अवश्य फायदा होता है। दूर दूर से लोग इसी कामना से यहां आते भी है।

इस मंदिर के आस-पास व्यापारियों की कई सौ दुकानें हैं यह दुकानदार बाबा मुकुन्देशवर महादेव के दर्शन के लिए प्रतिदिन पहुंचते हैं और उसी के बाद अपना काम शुरू करते हैं। शिव भक्तों का विश्वास है कि बाबा मुकुन्देश्वर महादेव उनकी सुरक्षा तो करते ही हैं। व्यापार में उन्हें उनके आशीर्वाद से ही लाभ भी मिलता है। यह मंदिर भी कोलाहल के बीच स्थापित होकर शिव भक्तों को शांति प्रदान करने वाला है। इस मंदिर के सौंदर्य को देखने के लिए भी शिव भक्तों को एक बार जरुर इस मंदिर पर आना चाहिए ।

Comments

comments

error: Content is protected !!