रेल प्रशासन ने जारी किया माघ मेला 2020 का मास्टर प्लान

उपासना डेस्क, प्रयागराज: रेल प्रशासन ने माघ मेला 2020 के अवसर पर आने वाले श्रधालुओं को विशेष सुविधा प्रदान करने हेतु मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय सभा कक्ष संकल्प में एक बैठक का आयोजन किया गया। इलाहाबाद मंडल द्वारा विशेष तैयारियां की गयी है जिसके अंतर्गत अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त 04 आश्रयों का निर्माण किया गया है | प्रत्येक आश्रय की क्षमता लगभग 3000 हज़ार यात्रियों की है | सभी आश्रयों में पूछताछ काउंटर, ट्रेन टाइमिंग डिस्पले बोर्ड, उद्घोषणा प्रणाली, पेयजल एवं प्रसाधन की उत्तम व्यवस्था की गई है | अलग-अलग दिशाओं में जाने हेतु यात्रियों को अलग-अलग रंग के बनाए गए आश्रय में रखा जायेगा और भीड़ के अनुसार मेला स्पेशल गाड़ियों को चला कर भीड़ को नियंत्रित किया जायेगा | सभी प्रमुख स्नान पर्वों पर नियमित ट्रेनों के अनारक्षित यात्री एवं श्रधालु इलाहाबाद जं. के सिटी साइड में बनाये गए गेट संख्या 1, 2A, 2B तथा 3 से प्रवेश करेगे जिसका विवरण इस प्रकार हैं –

  1. प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, लखनऊ एवं वाराणसी की ओर जाने वाले यात्री लाल रंग के बनाये गए गेट संख्या 1 से आश्रय संख्या 01 (लाल रंग) में प्रवेश करेंगे और FOB सं 02 (नए रैंप के माध्यम से) से प्लेटफार्म सं 07/08, एवं 09/10 से अपनी यात्रा प्रारंभ करेंगे |
  2. मिर्ज़ापुर, विन्ध्याचल,दीन दयाल उपाध्याय जं, पटना की ओर जाने वाले यात्री नीले रंग के बनाये गए गेट संख्या 2A से आश्रय संख्या 02 (नीला रंग) में प्रवेश करेंगे और FOB सं 02 (पुराने रैंप के माध्यम से) प्लेटफार्म सं 04/05 से अपनी यात्रा प्रारंभ करेंगे |
  3. मानिकपुर, सतना, बाँदा, झाँसी की ओर जाने वाले यात्री पीले रंग के बनाये गए गेट संख्या 2B से आश्रय संख्या 03 (पीला रंग) में प्रवेश करेंगे और प्लेटफार्म सं 01 से अपनी यात्रा प्रारंभ करेंगे |
  4. फतेहपुर, कानपुर एवं दिल्ली की ओर जाने वाले यात्री हरा रंग के बनाये गए गेट संख्या 3 से आश्रय संख्या 04 (हरा रंग) में प्रवेश करेंगे और FOB सं 03 से प्लेटफार्म सं 02/03 से अपनी यात्रा प्रारंभ करेंगे |
    सभी प्रमुख स्नान पर्वों पर आरक्षित टिकट धारक स्टेशन के अन्दर सिटी साइड के गेट संख्या 04 से प्रवेश करेंगे और गाड़ी के निर्धारित प्लेटफार्म पर जाकर अपनी यात्रा प्रारंभ करेंगे | आरक्षित टिकट धारकों से अनुरोध है कि यात्रा प्रारंभ करने से पर्याप्त समय पूर्व स्टेशन पर पहुँचना सुनिश्चित करें जिससे किसी तरह की कोई असुविधा न हो | माघ मेला 2020 के दौरान यात्रियों की सुविधा एवं सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इलाहाबाद जं. पर निर्धारित गेटों से ही स्टेशन के अन्दर प्रवेश की अनुमति होगी | सभी प्रमुख स्नान पर्वों पर इलाहाबाद जं. पर प्रवेश सिटी साइड से होगा तथा सिविल लाइन्स साइड से केवल निकलने की अनुमति होगी |
    प्रमुख स्नान पर्वों पर इलाहाबाद जं पर आरक्षित एवं अनारक्षित यात्रियों के प्रवेश कि व्यवस्था निम्न प्रकार से होगी —
    दिशावार जानेवाले यात्री आश्रय सं आश्रय का रंग प्रवेश द्वार सं प्लेटफार्म सं
    प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, लखनऊ एवं वाराणसी की ओर जाने वाले अनारक्षित यात्री 01 लाल रंग 01 07/08, 09/10
    मिर्ज़ापुर, विन्ध्याचल,दीन दयाल उपाध्याय जं, पटना की ओर जाने वाले अनारक्षित यात्री 02 नीले रंग 2A 04/05
    मानिकपुर, सतना, बाँदा, झाँसी की ओर जाने वाले अनारक्षित यात्री 03 पीला रंग 2 B 01
    फतेहपुर, कानपुर एवं दिल्ली की ओर जाने वाले अनारक्षित यात्री 04 हरा रंग 03 02/03
    सभी दिशाओं के आरक्षित यात्री – – 04 निर्धारित प्लेटफार्म से
  5. यात्रियों की सुरक्षा हेतु इलाहाबाद जं पर 143 नैनी में 35, इलाहाबाद- छिवकी में 30, सूबेदार गंज में 30, CCTV कैमरे लगाए गए हैं जिनकी मानीटरिंग मेला कंट्रोल रूम इलाहाबाद जंक्शन के माध्यम से की जाएगी |
  6. यात्रियों के स्वास्थय की देख-रेख हेतु इलाहाबाद जंक्शन पर बनाए गए प्रत्येक आश्रय में एवं प्रत्येक प्लेटफार्म पर मेडिकल बूथ बनाए जायेंगे साथ ही इलाहाबाद जंक्शन के आश्रय संख्या 03 के बगल में पुराने कोआपरेटिव बैंक में 06 बेड की इमरजेंसी चिकित्सा सुविधा भी उपलब्ध रहेगी और इलाहाबाद जंक्शन के सिटी साइड में 01 एवं सिविल लाइंस साइड में 01 एंबुलेंस की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी |
  7. नैनी स्टेशन पर 01 मेडिकल बूथ स्टेशन के प्लेटफार्म पर तथा 01 आश्रय में एवं इलाहाबाद- छिवकी स्टेशन पर भी 01 मेडिकल बूथ बनाया जायेगा, नैनी एवं इलाहाबाद- छिवकी स्टेशन पर भी 01- 01 एंबुलेंस की सुविधा उपलब्ध रहेगी |
  8. माघ मेला 2020 के दौरान नैनी स्टेशन पर 01, इलाहाबाद छिवकी स्टेशन पर 02 तथा विन्ध्याचल स्टेशन पर 01 अतिरिक्त UTS काउंटर खोले जायेंगे |
  9. परेड क्षेत्र में रेलवे द्वारा भव्य प्रदर्शनी लगाई जाएगी तथा यात्रियों की सुविधा हेतु आरक्षित एवं अनारक्षित टिकट काउंटर खोले जायेंगे साथ ही पूंछ ताछ काउंटर एवं उद्घोषणा प्रणाली की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी |
  10. यात्रियों की सुरक्षा,सहयोग एवं मार्गदर्शन हेतु लगभग 1000 आरपीएफ एवं 1000 जीआरपी के जवान तैनात किये जायेंगे इसके अतिरिक्त नागरिक सुरक्षा संगठन तथा स्काउट एंड गाइड के सदस्य भी उपस्थित रहेंगे |
  11. स्टेशन पर कार्यरत रेलवे कर्मचारियों को ‘रेल सेवक जैकेट’ प्रदान की जाएगी जिससे श्रद्धालु रेलवे कर्मचारियों की पहचान आसानी के कर सकें और लाभान्वित हो सकें |
  12. श्रधालुओं की भीड़ को नियंत्रित करने एवं बेहतर समन्वय हेतु बैंक रोड, पानी की टंकी, झूसी एवं नैनी में रेलवे एवं उत्तर प्रदेश परिवहन के अधिकारी उपस्थित रहेगे जिससे अविलम्ब श्रधालुओं को उनके गंतव्य तक पहुचाया जा सके एवं रेलवे परिसर में भीड़ अधिक होने की स्थिति में उत्तर प्रदेश परिवहन की बसों द्वारा श्रधालुओं को भेजा जा सके |
  13. नैनी एवं इलाहाबाद-छिवकी पर भी यात्रियों की सुविधा हेतु अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त आश्रयों का निर्माण किया गया है | आश्रयों में पूछताछ काउंटर, उद्घोषणा प्रणाली, पेयजल एवं प्रसाधन की उत्तम व्यवस्था की गई है |
  14. माघ मेला के दौरान इलाहाबाद जं पर सिविल लाइन्स साइड से प्रवेश बंद रहेगा जिसकी स्थिति इस प्रकार है :-

क्र. सं पर्व नाम तिथि दिन सिविल लाइन्स साइड से प्रवेश बंद रहने का समय
1 पौष पूर्णिमा 10.01.2020 शुक्रवार दिनांक 09.01.2020 शाम 18 बजे से दिनांक 11.01.2020 रात्रि 24 बजे तक
2 मकर संक्रांति 15.01.2020 बुद्धवार दिनांक 14.01.2020 शाम 18 बजे से दिनांक 16.01.2020 रात्रि 24 बजे तक
3 मौनी अमावश्या 24.01.2020 शुक्रवार दिनांक 22.01.2020 शाम 18 बजे से दिनांक 25.01.2020 रात्रि 24 बजे तक
4 बसंत पंचमी 30.01.2020 बृहस्पतिवार दिनांक 29.01.2020 शाम 18 बजे से दिनांक 31.01.2020 रात्रि 24 बजे तक
5 माघी पूर्णिमा 09.02.2020 रविवार दिनांक 08.02.2020 शाम 18 बजे से दिनांक 10.02.2020 रात्रि 24 बजे तक
6 महाशिवरात्रि 21.02.2020 शुक्रवार दिनांक 20.02.2020 शाम 18 बजे से दिनांक 22.02.2020 रात्रि 24 बजे तक

माघ मेला 2020 के दौरान आवश्कतानुसार नियमित मेल/एक्सप्रेस गाड़ियों का अतिरिक्त ठहराव भी प्रदान किया जायेगा | यात्रिओं से अनुरोध है कि यात्रा के दौरान किसी भी अपरचित द्वारा दिया गया कोई भी खाने पीने का सामान स्वीकार न करें एवं कम से कम सामान लेकर यात्रा करें और रेल प्रशासन का सहयोग करें |

Comments

comments

error: Content is protected !!