गोल्डेन पुरी सहित कई बाबा पंच दशनाम जूना अखाड़े से किए गए बाहर

उपासना डेस्क प्रयागराज : कुम्भ मेले से बड़ी खबर आयी। श्री महंत गोल्डेन पुरी बाबा श्री पंचदशनाम जूना अखाड़े से निकाले गए ।
गोल्डेन बाबा पर अखाड़े के संविधान के उल्लघंन का आरोप लगा है। मेले के आलाधिकारियों के साथ गलत व्यवहार के चलते बहार का रास्ता दिखाया गया। गोल्डन पुरी पर धोखाधड़ी और मेले से मिले पुलिसकर्मियों को हरिद्वार ले जाने के लिए धमकाने काभी आरोप है। महासभा ने की अखाड़े से निष्कासन की कार्रवाई ।
चार अन्य पदाधिकारियों को भी निष्कासित कर छीने सभी अधिकार ।
श्रीमहन्त देवेंद्र पुरी,श्रीमहन्त थानापति शिव ओम पुरी,थानापति मनोहर पुरी और सन्यासिनी श्रीमहन्त पूजा पुरी भी निष्कासित ।
श्रीमहन्त गोल्डेन पुरी की जगह श्रीमहन्त केदारपुरी को रमता पंच बनाया गया ।
थानापति मनोहर पुरी की जगह भोला पुरी को जिम्मेदारी दी गयी ।

जाने कौन है गोल्डन बाबा
आज लोग इन्हें गोल्डन बाबा के नाम से जानते हैं लेकिन सुधीर मक्कर ने अपने जीवन की शुरुआत फेरी पर कपड़े बेचने से की थी और आज वो एक सफल व्यवसायी हैं जिनके पास लगभग 150 करोड़ की संपत्ति है। बाबा का कहना है क‌ि मेरा सारा व्यवसाय भगवान श‌िव की कृपा से फला-फूला है और यही मेरे आध्यात्म में आने की वजह भी है।
अपने शरीर पर हर समय 14.5 किलो सोना पहनकर चलने वाले गोल्डन बाबा की। सोने की 21 चेन और लॉकेट और सोने से बनी जैकेट भी पहनते हैं।

Comments

comments

error: Content is protected !!