कुम्भ मेला 2019 के लिए पर्यटकों को आधुनिक सुविधा से जोड़ेगा सिविल इन्कलेव

उपासना डेस्क, इलाहाबाद: कुम्भ की तैयारियों के क्रम में इलाहाबाद में हवाई अड्डे का विस्तारीकरण तथा सिविल इन्केलव का आधुनिक निर्माण प्रगति पर है तथा इसकी नियमित समीक्षा की जा रही है। वायुसेना के एयरपोर्ट से महामहिम राष्ट्रपति को चित्रकूट के लिए विदा करने के उपरान्त मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल ने एयरपोर्ट के एकेडेमिक सभागार में सिविल इन्केलव के कार्यो की समीक्षा की।

मण्डलायुक्त ने इस बात पर जोर देकर अधिकारियों से कहा कि सिविल इन्कलेव का निर्माण नये सिरे से किया जाना है इसलिए अभी से उन बिन्दुओं पर विचार कर लिया जाना चाहिए जो पर्यटकों और जनता की सुविधाओं से जुड़े हुए हो। सिविल इन्केलव के आस-पास सभी सम्पर्क सड़कों को यथासम्भव चौड़ा किये जाने तथा इन्कलेव एवं गाडियों की आने में उनकी सुगम पार्किंग और वापसी में व्यवस्थित निकास रूप को आधुनिक पद्धतियों पर निर्मित करने के लिए मण्डलायुक्त ने पिछली बैठकों में जोर देते रहे है। इस बैठक में भी मण्डलायुक्त ने इस विचार को दोहराया की आम जनता को सिविल इन्कलेव तक पहुंचने वाले मार्ग से वीआईपी को पहुचाये जाने वाले मार्ग अलग होने चाहिए जिससे वीआईपी आवागमन के कारण आम जनता का आवागमन बाधित न हो। सिविल इन्कलेव के भीतर भी वीआईपी आवागमन के लिए अभी से स्थान चिन्हित कर उसकी व्यवस्था की जानी चाहिए तथा आम आवागमन का निकास से वीआईपी के आवागमन या निकास को अलग बनाया जाना चाहिए। इसी प्रकार वरिष्ठ नागरिको तथा वृद्धजनों के लिए भी आसन मार्ग और सुगम व्यवस्थाये का निर्माय किये जाने हेतु व्यवस्था का खाका अभी से तैयार कर लेना उचित होगा।

मण्डलायुक्त ने कहा कि आगामी समय में अन्तर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय पर्यटकों का आकर्षण और आवागमन और अधिक बढ़ेगा तथा भविष्य में इस सिविल इन्कलेव पर उड़ाने भी बढेगी तथा बड़ी विमान कम्पनियाँ भी यहां तक आयेगी। इसके दृष्टिकोण से आऩे वाले पर्यटकों की हर आधुनिक सुविधा का ख्याल रखते हुए सिविल इन्कलेव को बनाया जाना चाहिए जिससे इलाहाबाद का गौरव बढ सके। उन्होंने वीआईपी पार्किंग को अलग से चिंहित कर अभी से प्राविधान में रख लेने के लए कहा तथआ इस बात पर जोर दिया कि प्रथम तल का क्षेत्र इतना विस्तृत होना चाहिए कि उसमे अधिक से अधिक लोग बैठ सके। इसी प्रकार बुंकिग काउण्टर तथा सुरक्षा के इंतजाम भी आधुनिक तरीके से सुविधा ढंग से डिजाइन करे को कहा।

Comments

comments

error: Content is protected !!